top of page
न में जल्दी ही रूचि हो गई । वहीं के सैक्रेड हार्ट स्कूल से दसवीं तक की पढ़ाई की जँहा इनकी हिन्दी शिक्षिका, श्रीमती रेणु शर्मा का इनके लेखन को संवारने और दिशा देने में महत्वपूर्ण योगदान रहा। बारहवीं की शिक्षा एपीजे स्कूल, नोएडा से करने के पश्चात इनका दाखिला दरभंगा मेडिकल कॉलेज एवं हस्पताल में हुआ जहा से इन्हें चिकित्सा शास्त्र में स्नातक की उपाधि प्राप्त हुई। तत्पश्चात, फार्माकोलाजी में स्नातकोतर इन्होंने राजेन्द्र इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेज, राँची से किया। वर्तमान में महात्मा गांधी मेमोरियल मेडिकल कॉलेज, जमशेदपुर में फार्माकोलॉजी विभाग.में व्याख्याता के पद पर कार्यरत हैं और जमशेदपुर, झारखंड ही इनका स्थाई निवास स्था है । यँहा ये अपने पति, डा प्रणय कुमार मिश्रा और पुत्र प्रणीत कुमार मिश्रा के साथ जीव व्यतीत कर रही हैं ।लेखन इनका व्यक्तिगत शौक है। अंग्रेजी और हिन्दी, दोनों ही भाषाओं में लेखन में इन रुचि है। पत्र पत्रिकाओं के लिए बहुत कुछ लिखा है। पिट्सबर्ग से प्रकाशित द्वैभाषिक पत्रि "सेतु"में इनकी अनेक कविताएँ और कहानियाँ प्रकाशित हुई हैं । अमेजन पर अंग्रेजी में इन एक उपन्यास, वाटसोएवर यू डू" उपलब्ध है । हिन्दी में एक काव्य संग्रह, "अनंत आकाश विश्व हिन्दी पुस्तक बैंक, मोबा एप्स पर प्रकाशित हुई है जो कि यह ऐप डाउनलोड कर जा सकती है। "सत्याग्रह के पंख " इनकी तृतीय प्रकाशित पुस्तक है। भविष्य में भी ले और प्रकाशन की आकांक्षा रखती हैं।

Satyagraha Ke Pankh

SKU: 9781685762124
₹280.00Price
  • This product is non refundable and non returnable once sold

bottom of page